February 25, 2021

किसान आज फिर ब्लॉक हुआ दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे, जानें NCR के ट्रैफिक का हाल

केंद्र सरकार के कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान अपनी मांगों पर डटे हैं और उनका प्रदर्शन लगातार जारी है। किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए मंगलवार को सुबह 7:30 बजे दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई। एक्सप्रेसवे को पूरी तरह से बंद कर दिया क्योंकि प्रदर्शन कर रहे किसानों ने अपने सभी कैरिजवे को ब्लॉक कर दिया। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्विटर का इस्तेमाल करते हुए जनता को लगभग 7:37 बजे खबर दि कि गाजीपुर-गाजियाबाद सीमा पर कैरिजवे बंद रहेगा।

पुलिस उपायुक्त (पूर्व) जसमीत सिंह ने भी प्रदर्शनकारी किसानों द्वारा सीमा पर नाकाबंदी करने की पुष्टि की। एक्सप्रेसवे पर अचानक हुई नाकाबंदी ने दिल्ली और उत्तर प्रदेश पुलिस को यातायात को आनंद विहार, भोपुरा और अप्सरा जैसी वैकल्पिक सीमाओं पर मोड़ने के लिए प्रेरित किया है। चूंकि ये समय दफ्तर जाने वाले लोगों के लिए मुख्य है तो इस दौरान ट्रैफिक की समस्या खड़ी हो सकती है
वार दोपहर के बाद यह दूसरी बार है कि एक्सप्रेसवे को किसानों द्वारा पूरी तरह से अवरुद्ध कर दिया गया है, किसान आरोप लगा रहे हैं कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के कई किसानों को दिल्ली की सीमाओं से आगे बढ़ने और आंदोलन में शामिल होने से रोक दिया गया था। यूपी प्रशासन के अधिकारियों द्वारा किसानों को आश्वासन दिया गया कि सोमवार को सीमाओं की ओर जाने से किसी को नहीं रोका जाएगा।

सिंघू और टिकरी सीमा, जहां हजारों किसान विरोध कर रहे हैं, वे अब भी बंद हैं जबकि दिल्ली से नोएडा में प्रवेश करने वाले वाहनों के लिए चिल्ला (दिल्ली-नोएडा लिंक रोड) सीमा पर एक कैरिजवे खुला है। नोएडा जाने वाले मोटर चालकों को डीएनडी, कालिंदी कुंज, न्यू अशोक नगर, कोंडली, और दल्लूपुरा जैसी अन्य सीमाओं पर भेजा जा रहा है।