March 5, 2021

इंडोनेशिया में ज्वालामुखी विस्फोट, हजारों को सुरक्षित बचाया गया कई उड़ानें रद्द

माउंट इली लेवेतलो ज्वालामुखी में विस्फोट के बाद हजारों इंडोनेशियाई नागरिकों को सुरक्षित ठिकानो पर पहुंचाया गया है | जहरीली गैस और राख का गुबार चार हजार मीटर तक आसमान में फैल गया, जिसके बाद लोगों में अफरा तफरी मच गई |
घटनास्थल के आस-पास के 20 से ज्यादा गांवों से तकरीबन 2800 लोगों को निकाला सुरक्षित स्थानों पहुंचाया जा चुका है और अभी भी लोगों की निकासी का काम चल रहा है। यहां कई गांव इस ज्वालामुखी विस्फोट के कारण प्रभावित हुए हैं।
रविवार को माउंट इली लेवेतलो ज्वालामुखी फट पड़ा जिस कारण आसमान में करीब चार हजार मीटर तक राख और जहरीली गैस का गुबार फैल गया | इंडोनेशिया के आपदा विभाग के मुताबिक ज्वालामुखी विस्फोट के बाद हजारों लोगों को सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचाया गया | एजेंसी फॉर वोल्कोलॉजी एंड जियोलॉजिकल मिटिगेशन के मुताबिक ज्वालामुखी में विस्फोट इंडोनेशिया के पूर्वी नुसा तेंगारा प्रांत में हुआ | विस्फोट को होते हुए देखने वाले 17 साल के मुहम्मद इलहान ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स को बताया, “स्थानीय लोग घबराए हुए हैं, उन्हें अब भी सुरक्षित ठिकानों की तलाश है, उन्हें पैसों की जरूरत है |”
पूर्वी इंडोनेशिया में ज्वालामुखी फटने से कई लोग प्रभावित हो गए हैं और आपातकालीन स्थिति में कई अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को रद्द कर दिया गया है। स्थानीय मीडिया के अनुसार ज्वालामुखी विस्फोट के बाद पूर्वी इंडोनेशिया में करीब 2800 लोगों को प्रभावित इलाके से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। ज्वालमुखी विस्फोट के बाद राख का स्तंभ आसमान में 4000 मीटर (13,120 फीट) की ऊंचाई तक देखा जा रहा है। यहां कई गांव इस ज्वालामुखी विस्फोट के कारण प्रभावित हुए हैं।
गांव वालों में ज्वालामुखी में विस्फोट के कारण घबराहट के बावजूद किसी के मारे जाने या घायल होने की खबर नहीं है |