February 28, 2021

केरल पुलिस अधिनियम में विवादास्पद संशोधन निरस्त करने के अध्यादेश पर किए हस्ताक्षर

केरल सरकार ने पुलिस अधिनियम में विवादास्पद संशोधन को निरस्त कर दिया है। केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने केरल पुलिस कानून में विवादित संशोधन को निरस्त करने के अध्यादेश पर बुधवार को हस्ताक्षर किए। राजभवन के सूत्रों ने ‘पीटीआई भाषा’ से कहा, ‘‘राज्यपाल ने संशोधन वापस लेने के अध्यादेश पर हस्ताक्षर कर दिए हैं।’’ पुलिस कानून में इस संशोधन को लेकर विवाद हो गया था और इसे अभिव्यक्ति स्वतंत्रता और मीडिया की आजादी पर हमला बताया गया था। विवाद बढ़ने के बाद राज्य की वाममोर्चा सरकार ने मंगलवार को कहा था कि वह इस संशोधन को वापस लेने के लिए अध्यादेश लाएगी।
मंत्रिमंडल की विशेष बैठक में राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान से धारा 118-ए को निरस्त करने के लिए अध्यादेश जारी करने की सिफारिश करने का फैसला किया गया। इस विवादास्पद संशोधन को लेकर देशभर में आलोचना के बाद वाम सरकार ने सोमवार को इस पर रोक लगाने का फैसला करते हुए कहा था कि राज्य विधानसभा में विस्तृत विचार-विमर्श के बाद इस संबंध में निर्णय किया जाएगा। विपक्षी दलों और वाम समर्थकों ने भी संशोधन की आलोचना करते हुए इसे अभिव्यक्ति और मीडिया की स्वतंत्रता के खिलाफ बताया था।
विपक्षी दलों ने इसे मीडिया की आजादी के खिलाफ बताया था। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने भी सोमवार को दिल्ली में पत्रकारों से कहा था कि इस पर विचार किया जाएगा। इसके बाद ही पिनराई विजयन सरकार ने इसे वापस लेने का फैसला किया था।