February 27, 2021

किशोर बियाणी को जनवरी अंत तक फ्यूचर कारोबार के सामान्य होने की उम्मीद

फ्यूचर समूह को उसका खुदरा बिक्री कारोबार जनवरी अंत तक सामान्य हो जाने की उम्मीद है। कोरोना वायरस महामारी के कारण कारोबार बुरी तरह प्रभावित होने के करीब एक साल बाद यह स्थिति बनेगी। संस्थापक और फ्यूचर समूह के सीईओ किशोर बियाणी ने यह कहा। बियाणी ने पीटीआई- भाषा से बातचीत में कहा फ्यूचर समूह के खुदरा कारोबार की बिक्री कोविड-19 से पहले के स्तर के 60 प्रतिशत तक पहुंच चुकी है और कामकाज काफी हद तक सामान्य होने की तरफ बढ़ रहा है। फ्यूचर समूह बिग बाजार, एफबीबी, सेंट्रल एवं नीलगिरी जैसे खुदरा कारोबार को चलाता है।

वहीं उन्होंने कहा कि उसके स्टोरों में स्टॉक की मात्रा भी महामारी से पहले की स्थिति के 80 प्रतिशत तक पहुंच चुकी है। फ्यूचर समूह को जियो मार्ट से भी बड़े ऑर्डर प्राप्त हो रहे हैं जिससे उसे मजबूत वापसी करने में मदद मिल रही है। फ्यूचर समूह ने अपने खुदरा व्यवसाय को बेचने के लिए मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज के साथ 24,713 करोड़ रुपये का सौदा किया है।

बियाणी ने कहा, ”हमारे सभी स्टोर अब काम करने लगे हैं और हमारी बिक्री भी कोविड महामारी से पहले की तुलना में 50 से 60 प्रतिशत तक पहुंच गई है। नया माल भी स्टोरों में जा रहा है और मुझे लगता है कि यह महामारी के समय के निम्न स्तर से बढ़कर 70 से 80 प्रतिशत तक पहुंच चुका है।” फ्यूचर समूह की कंपनियां और उसके प्रवर्तकों पर कुल मिलाकर 20,000 करोड़ रुपए का कर्ज है। कंपनी की स्टॉक और तैयार माल की स्थिति पर बियाणी ने कहा, ”जब हमने शुरू किया (लॉकडाउन के बाद) उस समय से लेकर आज हम कहीं बेहतर स्थिति में है। हमारा कारोबार काफी कुछ सामान्य हो चला है।”

हालांकि उन्होंने यह भी माना कि ऐसे दिन लौटने में अभी समय लगेगा जब हमारे सभी स्टोरों में काफी भीड़ होती थी। बियाणी ने कहा, लोग अभी सामाजिक दूरी के नियम का पालन कर रहे हैं, कुछ और भी वजह हैं। जब तक सभी को टीका नहीं लग जाता है यह 100 प्रतिशत तक नहीं हो सकता है। लेकिन मेरा मानना है कि स्थितियां पुराने स्तर में लौट रही हैं और आना जाना बढ़ रहा है।”