February 28, 2021

अमेरिका साइबर अटैक: माइक्रोसॉफ्ट के सिस्टम में भी पाए गए है खतरनाक सॉफ्टवेयर्स

माइक्रोसॉफ्ट ने भी कहा है कि उसके सिस्टम में अमेरिकी एजेंसियों पर रूस द्वारा साइबर हमले से जुड़े सॉफ्टवेयर्स पाए गए हैं. हालांकि, कंपनी ने स्पष्ट किया है कि उसने इसे हटा दिया है. अमेरिकी एजेंसियां अभी भी इस मामले की जांच कर रही हैं |

नई दिल्ली: कुछ दिन पहले अमेरिकी अधिकारियों द्वारा बड़े हैंकिंग कैंपेन के खुलासे के बाद अब माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft Corp.) ने भी इससे जुड़ी एक अहम जानकारी दी है. टेक्नोलॉजी की दुनिया की इस दिग्गज कंपनी का दावा है कि उसके सिस्टम में भी इस हैंकिंग से जुड़े खतरनाक सॉफ्टवेयर्स पाए गए हैं. रेडमंड (Redmond) नाम की वॉशिंगटन की एक कंपनी Orion सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करती है. नेटवर्किंग मैनेजमेंट के लिए इस सॉफ्टवेयर से काम किया जाता है. इस सॉफ्टवेयर को तैयार करने वाली कंपनी का नाम SolarWinds Corp है. अमेरिका एजेंसियों समेत कईयों पर रूस द्वारा संभावित साइबर अटैक में इस कंपनी का भी इस्तेमाल किए जाने की आशंका है |

माइक्रोसॉफ्ट ने कहा, ‘SolarWinds के अन्य ग्राहकों की तरह ही हम भी ऐसे इंडिकेटर्स पर नजर बनाये हुए हैं और हमने अपने सिस्टम में SolarWinds बाइनरीज की मौजूदगी दर्ज की है. हमने इसे अपने सिस्टम से हटा दिया है.’ हालांकि, कंपनी ने यह भी स्पष्ट किया कि उसके सिस्टम की मदद से किसी भी साइबर अटैक को अंजाम नहीं दिया गया है |