May 7, 2021

पंजाब में आज से खुल गये 5वीं से 12वीं तक स्कूल, कोरोना प्रोटोकॉल का करना होगा पालन

मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह (Amrinder Singh) ने स्‍कूलों (School Reopen) को निर्देश दिया है कि छात्रों की सुरक्षा का पूरा ध्‍यान रखा जाना चाहिए. अन्‍य क्‍लासेज के लिए अभी स्‍कूल बंद रहेंगे, ताकि स्‍कूलों में छात्रों की गिनती नियंत्रित रहे. छात्रों के अलावा टीचर्स और स्‍टाफ को भी डिस्‍टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा|

पंजाब सरकार (Punjab Government) ने गुरुवार 7 जनवरी से राज्‍य के सभी सरकारी, अर्द्ध सरकारी और प्राइवेट स्कूल पांचवी से बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए खोलने के निर्देश दिए हैं. स्कूलों में क्लास एक्टिविटी और बच्चों के बैठने में सोशल डिस्टेंसिंग प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने के भी निर्देश दिए गए हैं. राज्‍य शिक्षामंत्री विजय इंदर सिंगला ने कहा है कि छात्रों और अभिभावकों की मांग के चलते ही स्‍कूलों को खोलने का फैसला लिया जा रहा है|

 

मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने स्‍कूलों को निर्देश दिया है कि छात्रों की सुरक्षा का पूरा ध्‍यान रखा जाना चाहिए. अन्‍य क्‍लासेज के लिए अभी स्‍कूल बंद रहेंगे, ताकि स्‍कूलों में छात्रों की गिनती नियंत्रित रहे. छात्रों के अलावा टीचर्स और स्‍टाफ को भी डिस्‍टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा|

 

शिक्षामंत्री सिंगला ने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देशों के अनुसार, सभी स्कूलों को COVID सावधानियों का सख्ती से पालन करने के लिए कहा गया है. कैबिनेट मंत्री ने यह भी कहा कि शिक्षा विभाग ने पहले कई स्कूल मैनेजमेंट से फीडबैक या है. उन्होंने कहा कि बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ ही, सिलेबस के फाइनल रिवीजन के लिए स्‍कूलों को एग्‍जाम से पहले फिर से खोलने का निर्णय लिया गया है|

 

अधिकांश राज्‍यों में अभी स्‍कूल केवल बोर्ड परीक्षा में शामिल होने जा रहे छात्रों के लिए खोले जा रहे हैं:-

गुजरात में 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए सोमवार 11 जनवरी से स्‍कूल खुलने जा रहे हैं. फिजिकल अटेंडेंस अनिवार्य नहीं होगी और केवल उन्‍हीं छात्रों को क्‍लासेज में बैठने दिया जाएगा जिनके पास पैरेंट्स द्वारा साइन किया हुआ परमिशन लेटर होगा. स्‍कूल में एंट्री के लिए फेस मास्‍क अनिवार्य होगा और सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन भी जरूरी होगा.

 

राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने भी मंगलवार 5 जनवरी को ट्विटर के माध्‍यम से राज्‍य में 9वीं से 12वीं तक के छात्रों के स्‍कूल 18 जनवरी से खोलने की घोषणा की थी. स्‍कूली छात्रों के अलावा, ग्रेजुएशन, पोस्‍टग्रेजुएशन के फाइनल ईयर के स्‍टूडेंट्स के लिए भी राज्‍य में यूनिवर्सिटी और कॉलेज 18 जनवरी से खुलेंगे|

 

महाराष्‍ट्र के कुछ जिलों में सोमवार 4 जनवरी से स्‍कूल शुरू कर दिए गए. 9 महीनों से अधिक समय तक बंद रहने के बाद स्‍कूल दोबारा खोले गए हैं. औरंगाबाद, नागपुर और पुणे में छात्रों ने सोशल डिस्‍टेंसिंग के साथ स्‍कूल में क्‍लासेज़ अटेंड कीं. हालांकि, स्‍कूल खोले जाने से पहले की गई जांच में, सभी जिलों के स्‍कूलों में टीचिंग और नॉन टीचिंग स्‍टाफ कोरोना संक्रमित पाए गए थे|